You are here

MP,MLA बहुत बना लिए अब पटेल के वंशजों को CM बनाने के लिए संघर्ष करना होगा- मंत्री जय कुमार ‘जैकी’

नई दिल्ली/जालौन।  नीरज भाई पटेल ( नेशनल जनमत ब्यूरो) 

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के खाते में 27 विधायक डालने के बाद भी प्रदेश का कुर्मी समाज आज उपेक्षित महसूस कर रहा है। सपा सरकार में हिस्सेदारी ना मिलने से नाराज समाज ने पूरे प्रदेश में बीजेपी-अपना दल गठबंधन को झोली भरकर वोट भी डाले। लेकिन चुनाव के बाद एक बार फिर समाज को ठगा सा महसूस हुआ।

बीजेपी के 27 विधायकों में से सिर्फ 1 कैबिनेट मंत्री, अपना दल के 9 विधायकों में से सिर्फ एक राज्यमंत्री। रविवार को बुंदेलखंड के जालौन जिले के कोंच कस्बे में  बुंदेलखंड कुर्मी क्षत्रिय कल्याण समिति द्वारा आयोजित छत्रपति शाहूजी महाराज जयंती में समाज के प्रबुद्ध लोगों का दर्द एक बार फिर छलक उठा।

इसे भी पढ़ें-बीजेपी से जीते 27 विधायक कैबिनेट मंत्री सिर्फ एक हिस्सेदारी ना मिलने से आक्रोशित कुर्मी समाज

लोगों के मर्म और आक्रोश को भांपकर अपना दल (एस) कोटे से राज्यमंत्री जय कुमार सिंह पटेल जैकी और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और एमएलसी प्रतिनिधि आरपी निरंजन ने दिल खोलकर, ताल ठोककर समाज की पीड़ा मंच से व्यक्त की।

सीएम से कम पर समझौता नहीं करना चाहिए पटेल के वंशजों को – 

इसे भी पढ़ें-भगवाराज: CM के आदेश पर वाहन चेकिंग कर रहे दारोगा ने रोकी BJP नेता की कार, छूने पड़ गए पैर

मंत्री जय कुमार सिंह पटेल जैकी ने कहा कि शिवाजी और शाहूजी महाराज से लेकर सरदार वल्लभ भाई पटेल तक की विरासत संभाल रहे लोगों ने प्रदेश में विधायक, सांसद खूब बनाए लेकिन समाज अभी तक मुख्यमंत्री नहीं बना पाया क्योंकि समाज ने हमेशा किसी पार्टी को रोकने के लिए वोट डाला किसी पार्टी को खड़ा करने के लिए नहीं।

भीड़ से खचाखच भरे सभागार में लोगों के उत्साह को देखते हुए मंत्री ने कहा कि समय आ गया है कि हमें अपनी ताकत दिखानी होगी तभी हम शाहूजी महाराज के हिस्सेदारी आंदोलन को सही अर्थों में जरूरतमंदों तक पहुंचा पाएंगे।

कुर्मी-गुर्जर- लोधी समेत सारी किसान जातियां एक हैं- 

मंत्री ने बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि कुर्मी-गुर्जर-लोधी समेत सारी किसान जातियां जो सरदार पटेल को अपना वंशज मानती हैं और आपकी हिस्सेदारी में सहयोगी बनना चाहती हैं वो एक होकर प्रयास करें। वास्तव में कुर्मी कोई जाति ना होकर किसानों और कमेरों के एक समूह की विचारधारा का नाम है।

इसे भी पढ़ें-हिन्दू से बौद्ध बने अपना दल संस्थापक सोने लाल पटेल पर बीजेपी ने क्यों कराया था लाठीचार्ज

समाज को विधायक, एमएलसी मिला अब सांसद भी चाहिए- आरपी निंरजन 

समाजवादी पार्टी के प्रदेश सचिव एमएलसी प्रतिनिधि आरपी निरंजन ने कहा कि जालौन जिले के समाज ने अपनी ताकत दिखाते हुए अन्य समाज के भाईयों के सहयोग से समाज के विधायक, एमएलसी, जिला पंचायत अध्यक्ष, ब्लॉक प्रमुख बना लिए हैं। लेकिन समाज का कोई व्यक्ति जालौन या झांसी संसदीय क्षेत्र से अभी तक संसद में नहीं पहुंच पाया।

इसलिए जरूरत है कि एकजुट होकर समाज के किसी जिम्मेदार नेता को संसद तक पहुंचाया जाए। ताकि विधानसभा के अलावा आपके क्षेत्र की और समाज की आवाज संसद तक भी पहुंच सके।

मीडिया में समाज की सहभागिता जरूरी- 

आरपी निरंजन ने समाज में पत्रकारों की संख्या बढ़ाने की बात कही। उनकी बात को आगे बढ़ाते हुए नेशनल जनमत के संपादक नीरज भाई पटेल ने कहा कि समाज से जब तक लिखने और बोलने वाले निकलकर नहीं आएंगे आपकी आवाज यूं ही दबाई जाती रहेगी।

इसे भी पढ़ें-गर्भपात के लिए SC की चौखट पर 10 साल की रेप पीड़िता, फिर क्यों ना बच्चियों को ‘फूलन’ बनाएं ?

सरकार और शासन प्रशासन तक अपनी बात पहुंचाने के लिए लोगोंं को लिखना और बोलना शुरू करना होगा। नीरज भाई ने समाज के युवाओं से आह्वान किया कि अगर समाज की पीड़ा मन  में है तो ‘सेफ जोन’ से बाहर निकलकर त्याग करने के लिए तैयार रहना होगा।

इस मौके पर समाज के मेधावी छात्र-छात्राओं और सर्वोदय इंटर कॉलेज के प्रबंधक अनिल पटेल अटरिया, मथुरा प्रसाद डिग्री कॉलेज के प्रबंधक केदार निरंजन सिमिरिया, अपना दल एस के जिलाध्यक्ष बने रामाराजा निरंजन, बुंदेलखंड कुर्मी क्षत्रिय कल्याण समिति के संस्थापक अध्यक्ष रामप्रकाश निरंजन, महामंत्री सुशील निरंजन व अन्य लोगों को सम्मानित भी किया गया।

प्रमुख मौजूद लोग- 

जिला पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि देवेन्द्र निरंजन, समिति के जिलाध्यक्ष प्रधान गुलाब सिंह निरंजन, केन्द्रीय युवा समिति के अध्यक्ष मनोज  पटेल मड़वां, केन्द्रीय अध्यक्ष बुंकुक्षक समिति शिवशंकर पटेल, युवा समिति जिलाध्यक्ष विकास पटेल, पूर्व प्राचार्य वीरेन्द्र सिंह निरंंजन, लेखाकार कोषागार जितेन्द्र निरंजन, बब्बू राजा पटेल, देवी चरण सिंह पटेल, पूर्व भूसंनि राजेन्द्र सिंह निरंजन, जिला पंचायत सदस्य जेपी गौतम, जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि लालजी पटेल, शिक्षक नेता रामशंकर पटेल, शिक्षक नेता महेन्द्र भाटिया, डॉ. कैलाश निरंजन, प्रवेश निरंजन समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे। संचालन पीएन सिंह ने किया।

इसे भी पढ़ें-अपना दल नेता बांकेलाल पटेल के बेटे की हत्या, पुलिस के रवैये से कुर्मी समाज में आक्रोश

 

Related posts

Share
Share