You are here

अब तक के सबसे ‘भाषणवीर’ PM साबित हुए नरेन्द्र मोदी, 3 साल में दिए 30 मिनट से ज्यादा के 775 भाषण

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

सोशल मीडिया पर जुमलेबाज, फेंकू, भाषणबाज जैसे शब्दों के साथ लगातार विरोधियों के निशाने पर रहने वाले पीएम के तीन साल कार्यकाल में रोजगार, मंहगाई, विकास और अर्थव्यवस्था को लेकर उठते सवालों के बीच एक नई उपलब्धि हाथ लगी है। एक रिपोर्ट के अनुसार सत्ता संभालने के बाद पीएम मोदी 30 मिनट से ज्यादा के तकरीबन 775 भाषण दे चुके हैं।

साल 2014 के आम चुनाव में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बीजेपी को भारी बहुमत हासिल हुआ था। उस समय प्रधानमंत्री के लच्छेदार वायदों को इसका सबसे बड़ा कारण माना गया था। हालांकि बाद में इन्ही भाषण को अमित शाह जुमला बताकर अपने वायदों से मुकरते नजर आए।

अब इकोनॉमिक टाइम्स न्यूज पेपर की एक रिपोर्ट के अनुसार पीएम नरेंद्र मोदी 26 मई 2014 से 23 अक्टूबर तक 775 भाषण दे चुके हैं। इनमें से 166 भाषण विदेश में दिए गए। ईटी ने प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो और नरेंद्र मोदी की निजी वेबसाइट पर दी गई जानकारी के आधार पर ये दावा किया है।

ईटी की रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने हर महीने औसतन 19 भाषण दिए हैं। ईटी ने अपनी रिपोर्ट में पीएम मोदी के उन्हीं भाषणों को शामिल किया है जो 30 मिनट से लम्बे रहे। इस रिपोर्ट के अनुसार पीएम मोदी ने पद संभालने के बाद हर तीसरे दिन भाषण दिया है।

भाषणवीर पीएम- 

2015 में पीएम मोदी ने 264 भाषण दिए

2016 में पीएम मोदी ने 207 भाषण दिए

2017 में 23 अक्टूबर तक पीएम मोदी ने 169 भाषण दिए थे।

26 मई से 31 दिसंबर 2014 तक पीएम मोदी ने 135 भाषण दिए थे। रिपोर्ट के अनुसार पीएम मोदी ने अब तक एक महीने में सबसे ज्यादा 36 भाषण नवंबर 2015 में दिए थे। उन्होंने अप्रैल 2015 में 32, सितंबर 2014 में 31 और मई 2015 में 30 भाषण दिए थे।

10 साल में मनमोहन सिंह ने दिए थे 1401 भाषण- 

ईटी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के भी भाषणों का अध्ययन किया है। ईटी के अनुसार 10 साल तक प्रधानमंत्री रहने के दौरान मनमोहन सिंह ने कुल 1401 भाषण दिए। मनमोहन सिंह ने पीएम रहने के दौरान हर महीने औसतन 11 भाषण दिए।

रिपोर्ट के अनुसार मनमोहन सिंह ने यूपीए-1 या यूपीए-2 के पांच-पांच साल के शासन में जितना बोला था उससे ज्यादा घंटे पीएम मोदी अपने पहले साढ़े तीन साल में बोल चुके थे।

रिपोर्ट के अनुसार पीएम मनमोहन सिंह ने चुनाव के दौरान न के बराबर भाषण दिए थे। वहीं पीएम मोदी पिछले साढ़े तीन साल में जिन राज्यों में विधान सभा चुनाव हुए वहां पीएम मोदी ने पार्टी के लिए चुनाव प्रचार में सक्रिय रूप से हिस्सा लिया।

गुजरात अगले कुछ महीनों में चुनाव होने वाले हैं और पिछले एक महीने में पीएम मोदी करीब आधा दर्जन बार राज्य का दौरा कर चुके हैं।

गुजरात में बदलते मूड के संकेत: अब महिला कार्यकर्ता ने रोड शो के दौरान PM मोदी पर फेंकी चूड़ियां

देशभक्ति साबित करने के लिए सिनेमाघरों में राष्ट्रगान पर खड़ा होना ज़रूरी नहीं- सुप्रीम कोर्ट

राजस्थान: अपनी ही सरकार के खिलाफ BJP विधायक का बिगुल, बोले विधेयक लोकतंत्र का गला घोंटने वाला

राजस्थान के रामराज्य में नेताओं-अफसरों को FIR से बचाने की अनोखी तरकीब निकाली बीजेपी सरकार ने

3 साल में सबसे निचले पायदान पर GDP के आंकड़े आने के बाद PM मोदी बोले अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटी

हार्दिक के करीबी निखिल सवानी ने छोड़ी BJP, बोले पाटीदारों नेताओं को 1 करोड़ ऑफर कर रही है पार्टी

 

Related posts

Share
Share