You are here

नीतीश कुमार की अगुआई में 4 साल बाद NDA में शामिल होगी JDU, शरद बोले नीतीश ने बेच दिया ईमान

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

जनता दल यूनाइटेड ने एनडीए में शामिल होने का फैसला कर लिया है। शनिवार को बिहार के मुख्यमंत्री आवास पर हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पारित कर दिया गया है। बैठक में जदयू की बैठक में आमंत्रित सभी सदस्य शामिल हुए।

वहीं बैठक में भाग लेने पहुंचे झारखंड जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष जालेश्वर महतो ने कहा कि, झारखंड की जेडीयू पूरी तरह नीतीश कुमार के साथ है। उन्होंने आगे कहा कि झारखंड में शरद यादव की कोई चर्चा नहीं है, नीतीश कुमार का एनडीए के साथ जाने का फैसला एकदम सही है।

वहीं जेडीयू नेतृत्व से असंतुष्ट चल रहे पार्टी के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव आज पटना पहुंचे। जहां उनके समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया। शरद यादव ने जन अदालत में नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश उन्हें जदयू से निकालकर बेघर करना चाहते हैं।

शरद ने कहा कि कुछ लोगों ने रास्ता बदला लेकिन मैं नहीं बदलूंगा। शरद ने कहा कि राज्य में हुआ गठबंधन पांच साल का वादा था। जनता ने हमें अमानत दी थी। उन्होंने कहा कि घोषणा पत्र ईमान होता है लेकिन नीतीश ने ईमान बेच दिया।

इस दौरान नीतीश और शरद यादव के समर्थक मुख्यमंत्री आवास के बाहर आपस में भिड़ गए। इस भिड़ंत को देखते हुए सीएम आवास के बाहर भारी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। सीएम आवास पर हुई कार्यकारिणी की बैठक में शरद यादव के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई।

आपको बता दें कि नीतीश कुमार ने पिछले महीने राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस के साथ अपनी पार्टी के महागठबंधन से नाता तोड़कर बिहार में भाजपा के साथ मिलकर नई सरकार बनाई। इसके बाद से ही पार्टी के वरिष्ठ नेता व सांसद शरद यादव तथा उनके समर्थक पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे हैं।

Related posts

Share
Share