You are here

मोदी की किसान विरोधी नीतियों के कारण एक और किसान ने पूरे परिवार को मारकर कर ली आत्महत्या

नई दिल्ली। बालोद। नेशनल जनमत ब्यूरो।

मोदीराज में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य न मिलने से किसान लगातार कर्ज के बोझ से दबता जा रहा है, कर्ज के बोझ से दबे किसान लगातार आत्महत्या करने को मजबूर हैं। अभी भी फसलों के उचित दाम को लेकर महाराष्ट्र से लेकर मध्य प्रदेश के किसानों का आंदोलन उग्र रूप धारण करता जा रहा है। यूपी के किसान भी सड़को पर आ रहे हैं।

कर्ज में डूबे किसान ने परिवार को मारकर कर ली आत्महत्या

मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों के चलते या तो किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहा है या फिर आंदोलन के दौरान पुलिस की गोली खाने को मजबूर हो रहा है। भाजपा शाषित राज्य छत्तीसगढ़ में भी किसानों की आत्महत्या का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला बालोद जिले का है। यहां एक किसान ने अपने पूरे परिवार को मौत के घाट उतारकर खुद को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

इसे भी पढ़ें…ओवैशी ने गलत क्या कहा , ये देस वाकई किसी के बाप का नहीं है

घटना छत्तीसगढ़ के बालोद जिले की है। गुंडरदेही ब्लॉक स्थित ग्राम देवरी में एक किसान अपने परिवार को मौत के घाट उतारकर खुद फांसी के फंदे पर झूल गया। घटना की जानकारी लगते ही पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। आरोपी किसान का नाम गोविंद राम देशलहरे उम्र 45 वर्ष है।

रायपुर के मेकहारा अस्पताल में घायलों का चल रहा इलाज

मृतक आरोपी ने अपने ही 3 बच्चे और पत्नी के ऊपर धारदार हथियार से हमला कर खुद फांसी पर झूल गया। हमले में उसके पुत्र जीतेश, बेटी पल्लवी तथा पत्नी दुर्गा बाई की मौके पर ही मृत्यु हो गई। वहीं इस घटना में बड़ी बेटी शालिनी गंभीर रूप से घायल हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही घायल की दादी घर के अंदर पहुंची और घायल शालिनी को ग्रामीणों की मदद से गुंडरदेही अस्पताल ले जाया गया। जहां उसे इलाज के लिए रायपुर के मेकाहारा अस्पताल भेजा गया है।

इसे भी पढ़ें…योगीजी के मन का मैल साफ करने के लिए गुजरात के दलितों ने भेजा 125 किलों की साबुन

उधर घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने केस दर्ज कर विवेचना शुरु कर दी है। पुलिस के अनुसार घटना के समय हत्या करने वाले की भांजी योगेश्वरी भी घर में मौजूद थी। आरोपी ने वारदात को अंजाम देने से पहले उसे एक कमरे में बंद कर दिया और बारी-बारी से सभी को मौत के घाट उतारकर खुद आत्महत्या कर ली।

Related posts

Share
Share