You are here

भ्रष्टाचार के आरोपों से बौखलाए सीएमओ रामजी पाण्डेय ने पत्रकार रतन पटेल के खिलाफ रची साजिश !

लखनऊ। नेशनल जनमत ब्यूरो।

चित्रकूट जिले के पत्रकार रतन पटेल ने मुख्यमंत्री, आला अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों कॊ पत्र लिखकर सीएमओ डा.रामजी पाण्डेय पर धमकाने और फर्जी मुकदमे में फँसाने की साजिश रचने का आरोप लगाया है।

पत्रकार रतन पटेल के छोटे भाई महेश पटेल की स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से हुई मौत के बाद रतन पटेल ने स्वास्थ्य विभाग में फैले भ्रष्टाचार कॊ सामने लाने का बीड़ा उठाया। इसके बाद उन्होंने दवाओं एवं उपकरणों की खरीद में हुए घोटालों एवं सरकारी भवनों की रंगाई-पोताई के नाम पर जौनपुर के ठेकेदारों के साथ मिलकर किये गए लाखों के बंदरबाट का खुलासा किया इतना ही नहीं आरटीआई माँगकर भ्रष्टाचार की परते खोलने लगे। पत्रकार का आरोप है की इससे बौखलाये सीएमओ डॉ. रामजी पांडेय सत्त्तापक्ष के स्वजातीय नेताओ के साथ मिलकर उन्हे फर्जी मामले में फ़साने एवं हत्या की साजिश रच रहे हैं।


भ्रष्टाचार के गम्भीर आरोप हैं डा. पाण्डेय पर-

सीएमओ डॉ. रामजी पांडेय द्वारा रेट कांटेक्ट एवं अस्पतालों के मांग पत्र में शामिल जीवन रक्षक दवाओं की बजाय भारी कमीशन वाली गैर उपयोगी दवाओं की खरीद करने, जौनपुर, झुन्सी और सहारनपुर के फर्जी पंचायत उद्योगों के माध्यम से अस्पतालों में वार्षिक मरम्मत एवं रंगाई पोताई के नाम पर आने वाले लाखों के बजट का बंदरबांट करने का आरोप है। पत्रकार रतन पटेल का कहना है की उपरोक्त मामलों की शिकायत चित्रकूट दौरे पर आये डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या एवं जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह से करने से सीएमओ डॉ.रामजी पांडेय बौखला गये हैं।

जिले की महिला चिकित्सक से लगवाये हैं आरोप-
मुख्यमंत्री कॊ भेजे शिकायती पत्र में पत्रकारों ने रतन पटेल कॊ फर्जी मामले में फंसाने के लिए अधीनस्थ कर्मचारियों का सहारा लेने का आरोप लगाया है। पत्रकारों का आरोप है इस काम के लिए जिले में तैनात एक महिला चिकित्सक का सराहा लिया जा रहा है। जो सीएमओ की बेहद करीबी मानी जाती है। महिला चिकित्सक ने सीएमओ के इशारे पर डीएम और एसपी को एक तहरीर देकर रतन पटेल पर 5 हजार रुपये प्रतिमाह फिरौती मांगने और जिला अस्पताल में उनके चेम्बर के सामने घंटो बैठकर उनको गलत निगाहों से देखने का आरोप लगाया है।

इस बाबत सीएमओ डा.पाण्डेय ने नेशनल जनमत से बातचीत में इन सारे आरोपों कॊ निराधार बताते हुए कहा की उनका महिला चिकित्सक से कुछ आपसी विवाद है मेरा इस मामले से कॊई लेना देना नहीं।

Related posts

Share
Share