You are here

पूजा पाठ के नाम पर करता था रेप, लड़की ने काटा गंगेशानंद तीर्थपाद का लिंग

तिरुअनंतपुरम(केरल)। नेशनल जनमत ब्यूरो।

धर्म के ठेकेदारी के नाम पर यौनशोषण के मामले आने के बाद भी लोग ढ़ोंगी साधुओं के चुंगल में फंसने से बाज नहीं आ रहे. ताजा मामला केरल के तिरुअनंतपुरम का है यहां धर्म के नाम पर पांच साल से एक लड़की के घर पर उसका यौन शोषण किया जा रहा था.जब शोषण बर्दाश्त की सीमा को पार तब तब लड़की ने ढ़ोंगी का लिंग ही काट दिया.

शुक्रवार देर रात 23 साल की एक लड़की ने गंगेशानंद तीर्थपाद नामक साधु का लिंग उस समय काट दिया जब वह उसके साथ बलात्कार करने की कोशिश कर रहा था. घटना के बाद साधु को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है. ढोंंगी साधु कोल्लम जिले के पनमाना आश्रम में रहता था और लड़की के परिवार को बीते पांच साल से जानता था.

पूजा पाठ के बहाने आता था घर-

पुलिस को दिए अपने बयान में लड़की ने बताया कि साधु उसके घर में पूजा-पाठ किया करता था. वो लगभग 5 सालों से उसके साथ जबरन शारीरिक सम्बंध बनाता था. उसने लोकलाज के डर से ये बात किसी को नहीं बताई. लेकिन शुक्रवार की रात जब उसने जबरदस्ती करने की कोशिश करते हुए संबंध बनाने की कोशिश की तो मुझसे नहीं रहा गया और मैंने उसका लिंग काट दिया.

Related posts

Share
Share