You are here

अब संघ की BJP को नसीहत, कहा-PM के निर्णयों से घटी बीजेपी की लोकप्रियता, जनता का बदल रहा है मूड

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

साल 2019 तक देश की छवि विश्वस्तर पर चमकाने और अच्छे दिन का सब्जबाग दिखाने वाले पीएम मोदी की कलई खुद उसके पितृ संगठन आरएसएस ने खोली है। संघ ने बीजेपी को पीएम मोदी की घटती लोकप्रियता के प्रति आगाह किया है।

आरएसएस ने अपने विभिन्न संगठनों से जानकारी लेने के बाद पीएम मोदी पर टिप्पणी की है। संघ का कहना है कि मोदी सरकार की नाकामयाबियों के चलते बीजेपी की लोकप्रियता घटी है।

टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने अपने विभिन्न संगठनों से फीडबैक लेने के बाद पीएम मोदी पर हमला बोला। संघ का कहना है, आर्थिक सुस्ती, बेरोजगारी, नौकरियां जाने और नोटबंदी की असफलता के बाद मोदी सरकार की लोकप्रियता में कमी आई है।

संघ ने किसानों की समस्याओं,उनकी बदहाली के चलते आम लोगों में फैली निराशा के प्रति भारतीय जनता पार्टी को सचेत किया है।
रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी अभी भी जनता में काफी लोकप्रिय हैं, लेकिन उनकी इस लोकप्रियता से आगामी चुनाव में जीत सुनिश्तिच नहीं है। हम बीजेपी के याद दिलाना चाहेंगे कि साल 2004 में अटल बिहारी वाजपेयी की खासी लोकप्रियता के बावजूद बीजेपी लोक सभा चुनाव हार गई थी।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने हाल ही में मथुरा में तीन दिवसीय समन्वय क्रार्यक्रम किया था। जहां पर संघ ने अपने विभिन्न संगठनों की जमीनी रिपोर्ट का विश्लेषण किया। संघ के द्वारा आयोजित इस समन्वय कार्यक्रम में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और बीजेपी अध्यक्ष अमितशाह भी शरीक हुए थे।

रिपोर्ट में इस बात का खुलासा किया गया है कि संघ से जुड़े कई संगठन पीएम मोदी की आर्थिक नीतियों से बेहद खफा हैं। लोगों का भरोसा था कि पीएम मोदी की सरकार बनने के बाद ढेर सारा कालाधन वापस आएगा। नोटबंदी से भी उम्मीद थी कि कालेधन की वापसी होगी लेकिन ऐसा हो न सका। जिसके बाद लोगों में नाराजगी है।

आपको बता दें, राष्ट्रीय सेवक संघ से जुड़े भारतीय मजदूर संघ ने सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन करने का फैसला किया है। मजदूर संघ ये विरोध प्रदर्शन आगामी 17 नवंबर को यह प्रदर्शन करने वाली है।

भूखी जनता को दरकिनार कर, गुजरात चुनाव में बुलेट ट्रेन का सपना बेचने निकले, अच्छे दिन वाले PM मोदी

विदेश में मुगल बादशाह की मजार पर फूल चढ़ाने पहुंचे PM, UP में मुगल इतिहास बदलने की तैयारी

लखनऊ से दिल्ली तक पहुंचा शिक्षा मित्रों का गुस्सा, बोले न्याय लिए बिना यहां से हिलेंगे नहीं

धार्मिक CM का जंगलराज: कानपुर देहात से गायब हुई बच्चियों का आंख निकला शव इटावा में मिला

JNU के बाद नौजवानों ने दिल्ली विश्वविद्यालय में भी भगवा सोच को नकारा, अध्यक्ष-उपाध्यक्ष पर NSUI का कब्जा

सुबह छेड़छाड़ केस में BJP अध्यक्ष के बेटे की जमानत खारिज हुई, शाम को पीड़िता के IAS पिता का तबादला हो गया

 

Related posts

Share
Share