You are here

‘साझी विरासत’ सम्मेलन में बोला विपक्ष, BJP सरकार की तानाशाही से जनता को निजात दिलाकर रहेंगे

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

देश में बनाए जा रहे एक काल्पनिक डर के माहौल से इतर पूरे देश को एक साथ लेकर चलने वाली विचारधाराओं ने एक साथ राजस्थान की राजधानी जयपुर में ‘साझी विरासत बचाओ सम्मेलन’ का आयोजन किया। इस सम्मेलन में देश के कई विपक्षी दलों ने शिरकत की।

एक साथ मंच पर आए संगठित विपक्ष ने केन्द्र एवं राज्य की भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। विपक्षी दल के नेताओं ने कहा, भाजपा चुनाव में किए गए वादों को पूरे नहीं कर पाई। युवा रोजगार की तलाश में भटक रहे हैं। जनता महंगाई की मार झेल रही है और भारतीय जनता पार्टी धर्म के नाम पर लोगों को बांट रही है।

जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में आयोजित साझी विरासत बचाओ सम्मलेन में पंद्रह विपक्षी दलों के प्रतिनिधियों ने सम्मेलन को संबोधित किया। विपक्षी दलों ने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार चुनावी वादे पूरे करने में विफल रही है।

इस दौरान मंच पर उपस्थित सभी नेताओं ने एक स्वर में कहा कि देश की जनता को ये आश्वस्त करते हैं कि भाजपा सरकार की इस तानाशाही से जनता को मुक्त करवाने के लिये हम सभी एकजुट होकर सरकार के ख़िलाफ डटकर मुकाबला करेंगे।

पूर्व जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव ने कहा, संविधान और देश को बचाना पहली जरूरत है। चुनाव में हार-जीत से निपट लेंगे लेकिन देश को बचाने के लिए हमें एकजुट होना होगा। धर्म, पशु के नाम पर वैमनस्यता पैदा की जा रही है। साझी विरासत बचाओ सम्मेलन ने बता दिया है कि आने वाले समय की राजनीति एक सकारात्मक दिशा की ओर जा रही है

सम्मेलन को जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव, राकांपा के तारिक अनवर, माकपा के सीताराम येचुरी, कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट सहित अन्य विपक्षी दलों के नेताओं ने सम्बोधित किया।

राजस्थान के रामराज में स्कूल भी सुरक्षित नहीं, 6 साल की बच्ची के साथ केंद्रीय विद्यालय में रेप !

BJP सांसद बोले महाराष्ट्र की BJP सरकार के तीन सालों में किसानों की आत्महत्याएं बढ़ी हैं

संयुक्त राष्ट्र संघ ने गाय के नाम पर हिंसा और पत्रकारों की हत्या पर पीएम मोदी की आलोचना की

शिवराज का रामराज: प्राइमरी शिक्षक महेन्द्र यादव निलंबित, आरोप-खुले में शौच

आप लिपटे रहिए धर्म की चासनी में, यहां देश में पहली बार जाति के नाम पर बन गया ‘ब्राह्मण आयोग’

जापानी PM से गुजरात के विकास मॉडल की हकीकत छुपाने के लिए, झुग्गी-झोपड़ी को कपड़े से ढका गया

 

 

 

Related posts

Share
Share