You are here

सरदार पटेल जयंती पर अखिलेश का कुर्मी समाज से हिस्सेदारी का वादा, बोले भाई को मिलेगा भाई जैसा सम्मान

लखनऊ, नीरज भाई पटेल (नेशनल जनमत)

प्रदेश भर से जुटे कुर्मी समाज के लोगों से खचाखच भरे समाजवादी पार्टी कार्यालय और उसके बाहर जुटी हजारों की भीड़ को से उत्साहित  पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सरदार पटेल के अनुयायियों और कुर्मी समाज के लोगों को दिल खोलकर हिस्सेदारी देने का वादा किया।

मंगलवार को पार्टी कार्यालय पर आयोजित भव्य जयंती समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि जैसे हमने आगरा-लखनऊ जैसा शानदार एक्सप्रेस वे बनाकर दुनियाभर में नाम किया उसी तरह से हम सत्ता में आने पर सरदार पटेल के नाम पर वो कर देंगे जो आप सोच भी नहीं सकते।

अखिलेश यादव ने कहा-सरदार पटेल ने देश को एक किया लेकिन अब कुछ ताकतें देश को तोड़ना चाहती हैं। उन्होंने कहा सरदार पटेल का कद बहुत बड़ा है। देश को एक करने में सरदार पटेल ने बड़ी भूमिका निभाई है। सरदार पटेल को याद करके भारत का नक्शा याद आता है। उन्होंने देश को एक करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है।

कुर्मी समाज को हिस्सेदारी का वादा- 

कुर्मी समाज की भीड़ और उत्साह को देखकर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी खुद को रोक नहीं पाए और कुर्मी समाज को बराबर की हिस्सेदारी का आश्वासन दिया। अखिलेश बोले आप लोग हमारे भाई हैं और भाईयों को सरकार बनने पर हम भाई जैसा सम्मान देंगे।

अखिलेश बोले हमारी कोशिश होगी की कुर्मी समाज से ज्यादा से ज्यादा लोग विधानसभा और लोकसभा में पहुंचे। इस दौरान पूर्व सीएम ने कहा कि मैंने अपना पद यानि प्रदेश अध्यक्ष का पद नरेश उत्तम जी को बड़ी उम्मीदों के साथ दिया था, जिसे वो बखूबी निभा भी रहे हैं।

भाजपा पर हमला- 

अखिलेश ने कहा “सरदार पटेल ने देश को एक किया लेकिन अब कुछ ताकतें देश को तोड़ना चाहती हैं” ये ताकतें सरदार पटेल के लिए लोहा इकट्ठा कर रही हैं। केन्द्र की मोदी सरकार पर हमला करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि नोटबंदी से लोगों को परेशानी हुई।

आज भी सरकार के पास नोटबंदी का जवाब नहीं है। उन्होंने कहा कि नोटों में ऐसी सीरीज छपनी चाहिए जिसमें अलग-अलगी सीरीज में  सभी प्रमुख महापुरुषों की तस्वीर रहें।

मोदी पर हमला करते हुए अखिलेश ने कहा- “जिन लोगों ने नोटबंदी का हिसाब नहीं दिया वो सरदार पटेल के नाम पर जंग लगे लोहे का क्या हिसाब देंगे।“ उन्होंने कहा कि पटेलजी की सबसे बड़ी प्रतिमा गुजरात में बनने वाली थी। लेकिन क्या हुआ।

योगी सरकार पर हमला- 

अखिलेश ने एयरफोर्स को धन्यवाद देते हुए कहा- “एक्सप्रेस वे पर विमान उतारने के लिए धन्यवाद।“ नहीं, तो इनके मंत्री फावड़ा लिए सड़क खोद रहे होते। यूपी की कानून व्यवस्था बीजेपी के लोगों के लिए हैं। उन्होंने कहा कि तीन साल का आंकलन हमारी राज्य सरकार के काम से कर लिया जाए, असलियत पता चल जाएगी।

कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने की। कार्यक्रम संयोजक पूर्व मंत्री राममूर्ति वर्मा थे। इस दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा भी बहुत समय बाद किसी बड़े सामाजिक मंच पर अखिलेश यादव के साथ नजर आए। इस मौके पर मंच पर आते ही अखिलेश ने बेनी बाबू के पैर छूकर समाज के लोगों को एक बड़ा संदेश देने की कोशिश भी की।

कार्यक्रम में पूर्व मंत्री और वर्तमान में कुर्मी समाज से एक मात्र सपा विधायक नरेन्द्र सिंह वर्मा ने कुर्मियों समाज को संख्या के हिसाब से मान, सम्मान और हिस्सेदारी देने की बात कही।

सपा के प्रदेश सचिव आरपी निरंजन ने उम्मीद व्यक्त की आज के कार्यक्रम के बाद समाजवादी पार्टी के मीडिया के लोग M Y के बाद MKY समीकरण के बारे में लिखना शुरू करेंगे यानि मुस्लिम, यादव, कुर्मी गठजोड़।

इसके अलावा पूर्व सांसद राकेश सचान, पूर्व केन्द्रीय मंत्री रामपूजन पटेल, राज्यसभा सांसद रवि प्रकाश वर्मा, पूर्व मंत्री भगवत शरण गंगवार, एमएलसी रमा निरंजन, पूर्व विधायक अरुण वर्मा, पूर्व विधायक इंद्राणी वर्मा, पूर्व विधायक मदन गोपाल वर्मा, पूर्व पीसीएस राधेश्याम सिंह, पूर्व विधायक अभयराम पटेल, पूर्व मंत्री सुरेन्द्र पटेल, पूर्व विधायक रामललित चौधरी ने संबोधित किया।

इस दौरान एमएलसी विशाल वर्मा, पूर्व विधायक कृष्णगोपाल पटेल, पूर्व विधायक उत्कर्ष वर्मा, पूर्व विधायक राम सिंह पटेल, पूर्व एमएलसी एसपी सिंह आदि नेता मौजूद रहे।

मोदी सरकार के जश्न में जर्मन अर्थशास्त्री का खलल, अमेरिका के इशारे पर भारत में हुई नोटबंदी !

राष्ट्रनिर्माता: राजनीति और ऊंची प्रतिमाओं के खांचे से कहीं विशालकाय है सरदार का कद

झूला झुलाने के बाद भी बाज नहीं आ रहा चीन, अब 1000 किमी लंबी सुरंग से ब्रह्मपुत्र की धारा मोड़ने की साजिश

सरदार पटेल जयंती के लिए सपा कार्यालय तैयार, देखिए नरेश उत्तम पटेल से खास बातचीत

मोदी सरकार नोटबंदी का जश्न मनाने को तैयार, लेकिन 1 साल बाद भी सारे नोट नही गिन पाया RBI, गिनती जारी

 

Related posts

Share
Share