You are here

इस बार 12 नवंबर को गाजियाबाद में जयंती मनाएगा सरदार पटेल सेवा संस्थान, 1992 से समाज सेवा में है सक्रिय

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

राष्ट्रनिर्माता सरदार बल्लभ भाई पटेल जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के प्रति पूरे देश में जागरूकता बढ़ती जा रही है। इसी क्रम में देश की राजधानी दिल्ली में मावलंकर हॉल में आयोजित होने वाले एक बड़े कार्यक्रम की घोषणा के बाद 12 नवम्बर को गाजियाबाद में भव्य समारोह आयोजित कर सरदार पटेल जयंती आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।

31 अक्टूबर को सरदार पटेल जयंती पर पूरे देश में होने वाले कार्यक्रमों में समाजसेवियों और जनप्रतिनिधियों की व्यस्तताओं को देखते हुए  सरदार पटेल सेवा संस्थान गाजियाबाद द्वारा 12 नवंबर रविवार को जयंती मनाने का निर्णय लिया गया है। जिसमें समाज की दिशा एवं दशा पर मंथन किया जाएगा।

मोहन नगर स्थित पटेल उद्यान में 11 बजे से आयोजित समारोह में परिवहन मंत्री उ.प्र. स्वतंत्रदेव सिंह, सांसद सीतापुर राजेश वर्मा, कुलपति सरदार पटेल कृषि विश्वविद्यालय मेरठ गया प्रसाद उमराव, डीटीयू के डीन प्रो. एस के सिंह, विधायक भोगनीपुर विनोद कटियार प्रमुख रूप से मौजूद रहेंगे।

कार्यक्रम का स्वागताध्यक्ष जितेन्द्र कुमार और संयोजक कुलदीप कटियार को बनाया गया है।

1992 से लगातार हो रहा है जयंती का आयोजन- 

साल 1992 से सरदार पटेल सेवा संस्थान लगातार गाजियाबाद में पटेल जयंती का आयोजन करता आ रहा है। वर्तमान अध्यक्ष पीसीआर पटेल ने बताया कि छह साल से वो संस्थान के अध्यक्ष के रूप में जयंती आयोजित कर रहे हैं, जबकि वर्तमान महामंत्री रमापति चौधरी 1992 से अनवरत पटेल सेवा संस्थान के महामंत्री के रूप में समाज की सेवा में लगे हैं।

जयंती के व्यवस्थापक सदस्य- 

कार्यक्रम के बेहतर संयोजन के लिए संस्थान के जुड़े सक्रिय लोगों को जिम्मेदारी दी गई है। जिनमें हरीश सचान, संतोष उमराव, टीएन पटेल, सुदर्शन सिंह, राजेन्द्र पटेल, पीसी कटियार, वीरेन्द्र सिंह, मायाशंकर सिंह, विजय सिंह पटेल, शीला कटियार, सीमा सिंह, राजकुमार वर्मा, अरविंद पटेल, अजय सिंह, जनार्दन चौधरी के नाम प्रमुख हैं।

गौरी लंकेश मर्डर: HC ने कहा, विरोध को कुचलने का ट्रेंड बेहद खतरनाक, इससे देश की बुरी छवि बन रही है

जिनके वंशजों का इतिहास देश को गुलाम बनाने का रहा है, वह मराठाओं के इतिहास पर उंगली ना उठाएं भाग-1

PM 16 को फर्जी सांता क्लॉज बनकर गुजरात जाएंगे, इसलिए इलेक्शन कमीशन ने नहीं किया तारीख का ऐलान

EVM के साथ हुआ VVPAT का इस्तेमाल तो BJP शासित राज्य में कांग्रेस को मिला प्रचंड बहुमत, 81 में से 71 पर जीत

योगीराज: 4 महिला डॉक्टर्स का आरोप, BJP नेता शराब पीकर अभद्रता करते हैं, निलंबन की धमकी देते हैं

BJP के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा का वार, पीयूष गोयल रेल मंत्री हैं या जय अमित शाह की कंपनी के CA

छात्र-नागरिक ज्वाइंट एक्शन कमेटी ने BHU प्रशासन की गुंडागर्दी के खिलाफ किया आंदोलन का शंखनाद

 

 

Related posts

Share
Share