You are here

समाजसेवी सत्येन्द्र कुमार पटेल बनाए गए जनता दल (यू ) व्यापार प्रकोष्ठ के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

देश की राजधानी दिल्ली में सामाजिक तौर पर सक्रिय सत्येन्द्र पटेल को जनता दल यूनाइटेड (व्यापार प्रकोष्ठ) दिल्ली प्रदेश का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है।

सत्येन्द्र कुमार पटेल बिहार के नालंदा जिले के निवासी हैं और 20 साल से दिल्ली में सक्रिय हैं। सामाजिक कार्यकर्ता होने के साथ ही जनता दल यूनाइटेड के नेता भी हैं। युवा जेडीयू में दिल्ली प्रदेश के महासचिव रह चुके हैं।

प्रदेश अध्यक्ष नरसिंह शाह ने सत्येन्द्र को नई जिम्मेदारी देते हुए कहा कि उम्मीद है कि अपने सामाजिक सम्पर्क और मृदुभाषी व्यवहार से सत्येन्द्र व्यापारियों के बीच जनता दल यू को मजबूत करके नीतीश जी के हाथों को मजबूत करेंगे।

इस मौके पर अशफाक अहमद, मिथलेश प्रसाद, युवा जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय कुमार, श्याम सत्यार्थी, सत्य प्रकाश मिश्रा, विनय चौधरी समेत राष्ट्रीय महासचिव अखिलेश कटियार ने सत्येन्द्र को नई जिम्मेदारी की बधाई दी।

जेडीयू की तरफ से रूस गए थे सत्येन्द्र- 

रूस के खूबसूरत सोची शहर में 14 से 22 अक्टूबर तक आयोजित 19 वें वर्ल्ड फेस्टिवल ऑफ यूथ एंड स्टूडेंट में सत्येन्द्र पटेल जनता दल के कार्यकर्ता के बतौर सम्मिलित हुए थे।

सत्येन्द्र कुमार ने नेशनल जनमत को बताया कि इस विश्व सम्मेलन में 150 देशों के तकरीबन 20,000 युवाओं ने भाग लिया था। इस सम्मेलन में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले बदलावों में युवाओं की भूमिका और आने वाले भविष्य की अच्छी तस्वीर कैसे निर्मित होगी, इस पर चर्चा करने के लिए देश की हर पार्टी से प्रतिनिधि भेजे गए थे।

सत्येन्द्र कुमार कहते हैं कि मैं तमिलनाडु से लेकर झारखंड, गुजरात से लेकर बंगलुरू तक सामाजिक गतिविधियों में आता जाता रहता हूं। जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष ने जो जिम्मेदारी मुझे सौंपी है उसका असर जल्द ही दिखाई देगा।

‘राष्ट्रवाद’ के ठेकेदारों ने CM के कार्यक्रम के जोश में, राष्ट्रध्वज के ऊपर बांधा BJP का झंडा !

टिकट की घोषणा होते ही गुजरात BJP में बगावत, शाह की मौजूदगी में लगे हाय-हाय के नारे, पार्टी ऑफिस घेरा

BJP मेयर ममता पांडे ने IAS प्रतिभा पाल से की बदसलूकी, बोलीं औकात में रहो मैं पोस्ट ग्रेजुएट हूं, देखें वीडियो

जेल से बाहर आए पत्रकार शरद कटियार, युवाओं ने फूल-मालाओं से लादकर किया क्रांतिकारी की तरह स्वागत

‘राष्ट्रवादियों’ के राज में हिन्‍दू महासभा की धमकी, गोडसे की मूर्ति हटाई तो गांधी की मूर्तियां भी नहीं रहेंगी

 

Related posts

Share
Share