You are here

शत्रुघ्‍न सिन्हा का PM मोदी पर वार, पार्टी में 80% लोग आडवाणी को राष्ट्रपति बनते देखना चाहते थे

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

पूर्व केन्द्रीय मंत्री, सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने मोदी सरकार पर एक बार फिर बड़ा हमला बोला है। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि पार्टी में हर कोई चाहता था कि राष्ट्रपति लालकृष्ण आडवाणी बनाए जाएं, इसका समर्थन पार्टी में अधिकतर लोगों ने किया था।

एनडीटीवी चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा, बीजेपी के 80 फीसदी लोग चाहते थे कि पार्टी के प्रति सेवाओं को देखते हुए लाल कृष्ण आडवाणी को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया जाए।

मैंने इस मुद्दे पर पार्टी में कई लोगों से बात भी की थी। साल के शुरूआत में राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए आडवाणी के पक्ष में लॉबी करने वाले सिन्हा ने उन्हें अपना दोस्त, दार्शनिक, मार्गदर्शक, गुरु बताया है।

भाजपा आलाकमान द्वारा रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद के लिए नामित करने से पहले बॉलीवुड अभिनेता ने ट्विटर पर आडवाणी (89) के समर्थन में अभियान चलाया था।

मालूम रहे कि जाने माने अभिनेता सिन्हा 2013 में आडवाणी के नेतृत्व में बने भाजपा के उस ग्रुप का हिस्सा थे जिसने तब गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में ना चुनने का आग्रह किया था। लेकिन उनकी इस अपील को ठुकरा दिया गया और 2014 में मोदी के नेतृत्व में भाजपा को बड़ी जीत मिली।

बाद में आडवाणी की पार्टी सलाहकार वाली भूमिका को भी समाप्त कर दिया गया और औपरचारिक भूमिका तक ही सीमित रखा। इसी के बाद से पूर्व केंद्रीय मंत्री शत्रुघ्न सिन्हा भी भाजपा के महत्वपूर्ण अभियानों और कार्यक्रमों से किनारा करने लगे।

जिनके वंशजों का इतिहास देश को गुलाम बनाने का रहा है, वह मराठाओं के इतिहास पर उंगली ना उठाएं भाग-1

मराठाओं का शौर्य से भरा गौरवशाली इतिहास बनाम पेशवाओं का कलम से गढ़ा इतिहास पार्ट-2

चुनाव की तारीख घोषित ना करने पर बोला विपक्ष, गुजरात में BJP की डूबती नैया को चुनाव आयोग का सहारा

इस बार 12 नवंबर को गाजियाबाद में जयंती मनाएगा सरदार पटेल सेवा संस्थान, 1992 से समाज सेवा में है सक्रिय

PM 16 को फर्जी सांता क्लॉज बनकर गुजरात जाएंगे, इसलिए इलेक्शन कमीशन ने नहीं किया तारीख का ऐलान

EVM के साथ हुआ VVPAT का इस्तेमाल तो BJP शासित राज्य में कांग्रेस को मिला प्रचंड बहुमत, 81 में से 71 पर जीत

 

Related posts

Share
Share