You are here

हार्दिक के मंदसौर जाने की घोषणा से शिवराज सरकार की सांसे थमी, रात में ही बार्डर किया सील

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो

पटेल नव निर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हार्दिक पटेल और जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव अखिलेश कटियार के मंगलवार सुबह मंदसौर पहुंचने की घोषणा से मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार की सांसे थम गई है.

मध्यप्रदेश सरकार ने हार्दिक पटेल को रोकने के लिए राजस्थान-मध्यप्रदेश बोर्डर रात में ही सील कर दिया है. हालांकि हार्दिक पटेल भी अपनी तरफ से पूरी तैयारी में हैं. सोमवार देर रात हार्दिक पटेल के उदयपुर पहुंचते ही मध्यप्रदेश में नीमच पुलिस ने घेराबंदी शुरू कर दी.करीब 200 आरएएफ और एमपी पुलिस के १०० पुलिस कर्मी नयागाँव बोर्डर पर तैनात करके बॉर्डर सील कर दिया गया है.

इसे भी पढ़ें-देररात किसान सभा में उदयपुर पहुंचे हार्दिक पटेल, बोले शिवराज हैं कलियुग के कंस मामा

इस मामले में डीएम नीमच कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कहा की हार्दिक पटेल को मंदसौर नही जाने दिया जाएगा. वही SP तुषार कान्त का भी कहना है कि कानून व्यवस्था की स्थिति ना बिगड़े इसलिए हार्दिक पटेल को मंदसौर नही जाने दिया जाएगा. मतलब साफ है पुलिस हार्दिक पटेल को हिरासत में लेने की तैयारी में है.

मंदसौर जाने के लिए देर रात हार्दिक पटेल और अखिलेश कटियार उदयपुर पहुंचे. हार्दिक पटेल ने कहा कि वो एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं और सामाजिक कार्यकर्ता का फर्ज होता है कि समाज के हर सुख दुख में शामिल रहूं तो मैं भी अपने समाज के दुख में शामिल होने के लिए मंदसौर जाऊंगा. मैं अपना काम करूंगा पुलिस अपना काम करे. अखिलेश बोले लोकतंत्र का गला घोटना चाहते हैं शिवराज लेकिन उनको कामयाब होने नहीं दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें- नीतीश की चुनौती हम बिहार में चुनाव के लिए तैयार दम है तो यूपी में भी चुनाव करा ले बीजेपी

Related posts

Share
Share