You are here

दु्स्साहस : SI जय प्रकाश सिंह ने कार्रवाई के बदले गैंगरेप पीड़िता से ही कर दी अनैतिक डिमांड

नई दिल्ली। नेशनल जनमत ब्यूरो

योगीराज में बढ़ते अपराधों के बीच पुलिस वाले पीड़ितों को ही सताने में लगे हैं. उत्तर प्रदेश के रामपुर में  एक 37 वर्षीय महिला अपने साथ हुए रेप की शिकायत करने पुलिस थाने पहुंची थी. जहां इन्वेस्टिगेटिंग ऑफिसर ने उससे मदद देने के बदले सेक्स की ही मांग कर डाली.

उ.प्र. के रामपुर जिले के गंज थाने का मामला- 

एक  महिला अपने साथ हुए गैंगरेप की शिकायत लेकर रामपुर के गंज पुलिस स्टेशन मदद के लिए पहुंची. महिला ने जब आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए कहा तो इस केस के जांच अधिकारी दारोगा जयप्रकाश सिंह ने कहा कि कार्रवाई तो हो जाएगी लेकिन मुझे भी तो खुश करना होगा.

इसे भी पढ़ें- जिस जज पर लगाए थे जस्टिस कर्णन ने आरोप उसी जस्टिस को सौंप दिया कर्णन का केस

जब महिला ने इस मांग को मानने से इनकार कर दिया, तो पुलिस ने उसे एक और झटका दिया। सब – इंस्पेक्टर जय प्रकाश सिंह ने इस मामले में क्लोजर रिपोर्ट लगा दी और आरोपियों को क्लीन चिट दे दी. असहाय महिला ने एक बार फिर से उक्त एसआई से अपनी मदद की गुहार लगाई लेकिन इस बार महिला ने जयप्रकाश से हुई बातचीत रिकॉर्ड कर ली।

जांच के आदेश- 

सबूत के आधार पर बुधवार को महिला SP के पास गई जिन्होंने एसआई जयप्रकाश सिंह के खिलाफ जांच के आदेश जारी कर दिए हैं.इस मामले में ASP  सुधा सिंह ने बताया कि गंज स्टेशन ऑफिसर को इस मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है.

इसे भी पढ़ें- जस्टिस कर्णन की गिरफ्तारी के बाद छिड़ी बहस, देश क्या आज भी मनु की मनुस्मृति के चल रहा है

12 फरवरी की रात महिला का दो लोगों ने गैंगरेप किया था, जिनमें से एक उसका जानने वाला था। महिला अपने एक रिश्तेदार के यहां से वापस रामपुर सिटी लौट रही थी कि तभी दोनों ने उसे लिफ्ट दी, उसे घर छोड़ा और घर में उसे अकेला पाकर बंदूक की नोक पर बदमाशों ने महिला के साथ रेप किया।

पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज करने से माना कर दी। इसके बाद महिला ने स्थानीय कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और एक हफ्ते बाद कही जाकर महिला का केस दर्ज किया गया।

इसे भी पढ़ें- सीएम योगी के खिलाफ महिला ने दर्ज कराया केस, महिला की न्यूड तस्वीर वायरल करने का आरोप

महिला ने बताया कि एसआई ने रेप के बारे में कई बार आपत्तिजनक सवाल भी किए। इसके बाद उन्होंने मुझसे कहा, कि तुम पहले मेरी हसरत पूरी करो, तब आरोपी पकड़े जाएंगे। जब मुझसे ये सब बर्दाशत नहीं हुआ तो मैंने चुपके से उनकी सारी बात रिकॉर्ड कर ली और आखिर में सीडी SP को सौंप दी।

Related posts

Share
Share