You are here

मन करता है पीएम को चूडियां भेज दूं : स्मृति ईरानी

नई दिल्ली। सोबरन कबीर

बात उस समय की है जब पाकिस्तानी सेना ने यूपी के मथुरा जिले के निवासी सैनिक हेमराज का सिर काट दिया था. सारे देश में तत्कालीन मनमोहन सरकार के खिलाफ आक्रोश की लहर थी. टीवी चैनल पाकिस्तान को लेकर मनमोहन सरकार के लचर रवैये के कारण तीखी प्रतिक्रिया दे रहे थे. सोशल मीडिया पर भी मनमोहन सरकार को लेकर भारी आक्रोश था. उस समय भाजपा नेता स्म़ति ईरानी ने पाकिस्तान को लेकर कांग्रेस सरकार की लचर नीति पर हमला करते हुए कहा था कि ‘ मन करता है कि पीएम को चूड़िया भेज दें

आज स्म़ति ईरानी के उस बयान का जिक्र इसलिए हो रहा है क्योंकि मौजूदा दौर में फिर वैसा ही माहौल है. लेकिन अब स्मृति ईरानी की पार्टी खुद सत्ता में है. जवान कश्मीरी अलगाववादियों के हाथों पिट रहे हैं. इस तरह की खबरें तो मनमोहन सरकार के दौर में भी सुनाई नहीं देती थी. अभी छत्तीसगढ़ के नक्सली हमले में मारे गए सीआरपीएफ के जवानों के परिवार वालों की आंखों के आंसू सूखे भी नहीं थे कि पाकिस्तान द्वारा दो भारतीय सैनिकों के शव को क्षत-विक्षत करने की खबर ने भारतीयों का सब्र का बांध तोड़ दिया. अब सोशल मीडिया पर पाकिस्तान को लेकर मोदी सरकार के लचर रवैये को लेकर लोगों का आक्रोश फूट पड़ा है. सोशल मीडिया पर लोग अब भाजपा नेताओं को उनके बयान याद दिला रहे हैं जो उन्होंने मनमोहन सरकार के खिलाफ दिए थे. सोशल मीडिया पर सबसे अधिक चर्चा स्मृति ईरानी के उस बयान की हो रही है जिसमें उन्होंने कहा था कि मन करता है कि पीएम को चूड़ियां भेज दूं.

इसी तरह मोदी सरकार के एक और बड़बोले मंत्री गिरीराज किशोर के मनमोहन सरकार पर दिए बयान की भी चर्चा हो रही है जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘आज अगर मोदीजी देश के प्रधानमंत्री होते तो लाहौर पर भारत का झंड़ा फहरा गया होता ‘ भाजपा नेताओं की झूठी बयानबाजी के कारण सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर तरह-तरह के जोक बनाए जा रहे हैं लिखने वाले लिख रहे हैं कि वो तो अच्छा है कि इस समय भाजपा सत्ता में हैं कहीं विपक्ष में होती तो आज पाकिस्तान का नामोनिशान मिट चुका होता.

[ajax_load_more]

Related posts

Share
Share