You are here

लखनऊ: कांग्रेस का पिछड़ा वर्ग सम्मेलन 4 फरवरी को, राहुल सचान को मिली समन्वय की जिम्मेदारी

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।  देश में आजादी के आंदोलन का नेतृत्व करने वाली कांग्रेस पार्टी को एक समय सभी धर्म, जाति, वर्गों का समर्थन प्राप्त था। लेकिन बदलते समय के हिसाब से कांग्रेस नेतृत्व खुद में बदलाव नहीं कर पाया। यही कारण है कि विभिन्न प्रदेशों से कांग्रेस का जनाधार घटने लगा। आजादी के बाद आरएसएस मजबूत हुई तो…

Read More
Share
Share