You are here

वसुंधरा सरकार: पति को छुड़ाने पहुंची महिला से थानेदार ने कर दी जिस्म की मांग

जयपुर। नेशनल जनमत ब्यूरो

भाजपा सरकार में पुलिस बेकाबू होती जा रही है. अभी कुछ दिन पहले ही यूपी की भाजपा सरकार के शासन में कमल शुक्ला नामक जीआरपी सिपाही ने एक महिला को ट्रेन में रेप कर दिया औऱ अब राजस्थान में भाजपा के शासन में थानेदार से पति को छोड़ने की गुहार लगाने थाने पहुंची महिला से जिस्म की मांग की गई. जोधपुर के राजीव नगर थाने के थानेदार ने अपने पति को छुड़ाने थाने पहुंची महिला से उसके पति को छोड़ने के बदले में बिस्तर गर्म करने की शर्त रख दी.

आपको बतादे जोधपुर के राजीव गांधी नगर थानाधिकारी कमलदान चारण सात दिन पहले अफीम के केस में एक युवक को जेल भिजवाया. इसके दो दिन बाद ही थानाधिकारी उसकी पत्नी से पैसों का सौदा कर बैठा, फिर दोस्ती का हाथ बढ़ा दिया। वह वाट्सएप पर प्यार-मोहब्बत खुद की जवानी की बातें करने लगा.

इसे भी पढ़ें…चर्चित हो गई यादव जी की सामाजिक न्याय वाली शादी, बारातियों में बंटी गुलामगिरी और संविधान

इतना ही नहीं पहले उसने 15 लाख की गाड़ी छोड़ने के लिए 1 लाख रु. लिए और एक लाख रुपए का चेक बतौर जमानत रखा कि जब वह कैश ला देगी तो उसे चेक लौटा देगा। महिला पैसों का बंदोबस्त नहीं कर पाई तो उसके साथ ‘एंजॉय’ करने का ऑफर दिया। महिला सीधे एसीबी के दफ्तर पहुंची और पूरी बात बताई.

इसे भी पढ़ें…चौकाने वाला सच , MBBS, MD नहीं सिर्फ PHD डिग्री वाले ही लगा सकते हैं डॉक्टर का टाइटल

मंगलवार रात गश्त से पहले थानाधिकारी एंजॉय करने महिला के घर पहुंच गया। उसने कमरा बंद कर लिया, लेकिन अगली दस्तक से दरवाजा खुला तो उसके होश उड़ गए. एसीबी ने 1 लाख रु. के चेक के साथ थानाधिकारी को गिरफ्तार कर लिया. परिवादी महिला का सीएचबी थाने डीसीपी ऑफिस के बीचोबीच स्थित हुक्का बार ब्लैक मैजिक कैफे भी चर्चित है.

इसे भी पढ़ें…भगोड़े माल्या केस में देश से झूठ बोल रही मोदी सरकार , लंदन की अदालत ने खोली पोल

थानेदार कमलदान चारण ने 3 जून को तिलवाड़िया फांटा के निकट क्षेत्र से चौहाबो निवासी पंकज वैष्णव को एक किलो अफीम के साथ पकड़ा था। मामले की जांच सीएचबी थानाधिकारी जब्बरसिंह को दी थी, लेकिन किसी कारणवश जांच राजीव गांधी थाने के एसआई तनसिंह को दे दी गई। जब जांच खुद के थाने में गई तो थानेदार ने रिश्वत और अस्मत का पूरा खेल खेला.

Related posts

Share
Share