You are here

स्वच्छ भारत अभियान की हकीकत: सरकारी स्कूल में बना शौचालय जमींदोज, 5 बच्चे दबे, एक की मौत

नई दिल्ली/लखनऊ, नेशनल जनमत ब्यूरो।

सरकारी विभाग में भ्रष्टाचार की जड़े कितनी मजबूत हैं इसकी मिसाल फैजाबाद में देखने को मिली है। जहां पर सरकारी विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार की कीमत एक बच्चे को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी है।

घटना उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जिले के लाल बाग शहर की है। यहां पर स्कूल में बने शौचालय के घटिया निर्माण के कारण एक मासूम बच्चे की जान चली गई। इस घटना ने शौचालय निर्माण में किए गए भ्रष्टाचार की पोल खोल दी है।

3 अगस्त को फैजाबाद के कोतवाली नगर क्षेत्र मे लालबाग मोहल्ले में एक प्राइमरी पाठशाला के शौचालय फिर उसे लगी छत गिर जाने से 5 बच्चे दब गए। इस हादसे में दीवाल के नीचे दबने से एक मासूम की मौत हो गई जबकि चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को अस्पतताल में भर्ती कराया गया जहां उनका प्राथमिक उपचार करने के बाद छुट्टी दे दी गई।

आपको बता दें, प्राइमरी पाठशाला में शौचालय का निर्माण साल भर पहले किया गया था। रविवार को जब यह हादसा हुआ। शौचालय की जब छत गिरी तो उसके साथ ही दीवार भी ढह गई। पास ही खेल रहे बच्चे उसकी चपेट में आ गए। चीख पुकार सुनकर गांव के लोग इकट्ठे हो गए उन्होंने राहत और बचाव का काम किया।

हादसे में घायल बच्चों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान एक बच्चे प्रवेश कुमार ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने मृत बच्चे का शव पोस्टमार्टम के भेजा है। वहीं इस दर्दनाक घटना की छानबीन शुरू कर दी गई है।

Related posts

Share
Share