You are here

बुंदेलखंड: बाबा साहेब की प्रतिमा पर डाली ‘जूतों की माला’, प्रदर्शनकारियों पर पुलिस का लाठीचार्ज

नई दिल्ली/जालौन, नेशनल जनमत ब्यूरो।

उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र के जालौन जिले में ऐतिहासिक नगरी कालपी सोमवार को मनुवादियों की गलत हरकतों की वजह से अशांत हो गई। पहले तो जातिवादी मानसिकता से ग्रसित लोगों ने बाबा साहेब की प्रतिमा को जूतों की माला पहनाई फिर रही कसी कसर सीएम योगी की पुलिस ने पूरी कर दी।

कालपी कोतवाली क्षेत्र के काशीखेड़ा गांव में संविधान रचयिता डॉ. अंबेडकर की प्रतिमा का ऐसा अनादर करने वालों को गिरफ्तार करने के बजाए जातिवाद का आरोप झेल रही योगी सरकार की पुलिस ने विरोध प्रदर्शन करने वालों पर ही लाठियां बरसा दीं।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को लखनऊ में इस घटना पर कड़ा एतराज जताया है। उन्होंने जनता के गुस्से को जायज ठहराते हुए लाठी चार्ज करने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

उन्होंने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा, इन निर्दोष लोगों पर पुलिस लाठीचार्ज और उनमे से कई को जेल भेजना राज्य की भारतीय जनता पार्टी सरकार की जातिवादी, राजनीतिक द्वेष, दलित-विरोधी व अन्यायपूर्ण रवैये को दिखाती है।

बसपा अध्यक्ष ने आन्दोलनकारियों की तुरन्त रिहाई और लाठीचार्ज करने वाले पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों पर सख़्त कार्रवाई करने की मांग की।

मायावती ने कहा योगी सरकार के संवेदनशील व संगीन अपराध करने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई न किया जाना इस मामले मे सरकार की संलिप्तता को दर्शाता है। उन्होंने आगे कहा, वास्तव में अगर जिले के वरिष्ठ पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करते तो यह स्थिति न आती।

बीएसपी अध्यक्ष ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में हुए बवाल के लिए भी योगी सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा भाजपा सरकार के ग़लत व उपेक्षित रवैये के कारण बीएचयू पुलिस ज़्यादती के फलस्वरूप हिंसा, आगजनी व उपद्रव का शिकार हो रहा है।

आपको बता दें कालपी में कुछ अराजक तत्वों ने संविधान निर्माता बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर जूतों की माला डाल दी थी। जब इस बात की जानकारी ग्रामीणों को मिली तो उन्होंने विरोध प्रदर्शन किया था।

कमिश्वर की जांच में खुलासा, VC त्रिपाठी के गलत रवैये से भड़का छात्राओं का गुस्सा, दिल्ली तलब

देश की ही नहीं, विदेशी मीडिया को भी पता है कि अर्णब गोस्वामी का रिपब्लिक TV BJP का मुखपत्र है

पढ़िए ‘मोदी-शाह’ के काल में आपके भाजपाई होने के मायने …

योगी सरकार का डबल गेम, छोटे अधिकारियों पर कार्रवाई का मरहम, BHU के 1200 स्टूडेंट पर FIR दर्ज

फजीहत के बाद जागी योगी सरकार, CO-SO-ACM हटाए गए, अखिलेश बोले BHU में छिन गई बोलने की आजादी

जाट महासभा का ऐलान, ब्राह्मणवादी तीर्थ यात्रा बंद करेंगे, बीजेपी-कांग्रेस दोनों को ही वोट नहीं देगे

VC त्रिपाठी के राज में अश्लीलता का गढ़ बन गया BHU, पढ़िए एक छात्रा का शर्मसार कर देने वाला पत्र

BHU VC की तानाशाही: लाठीचार्ज के बाद, गर्ल्स हॉस्टल खाली कराकर, छात्राओं को जबरन घर भेजने का फरमान

Related posts

Share
Share