You are here

यूपीएससी, 15 फीसदी सवर्णों का हुआ 45 फीसदी से ज्यादा सिलेक्शन

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

यूपीएससी 2016 के परिणाम घोषित हो गए हैं. इन परिणामों में सवर्ण समुदाय के 45.49 फीसदी अभ्यार्थियों का चयन हुआ है.

1931 की जनगणना के अनुसार सवर्णों की देश में संख्या 15 फीसदी थी

आपको बता दे कि अगर 1931 की जातिगत जनगणना को आधार माना जाए तो सवर्ण समुदाय की देश में संख्या करीब 15 फीसदी है. इस तरह आज भी यूपीएससी में चयन होने वाले सवर्णों की संख्या अपनी आबादी के अनुपात में लगभग तीन गुना है. इसे ऐसे समझ सकते हैं कि 15 फीसदी सवर्ण लगभग 45 फीसदी यूपीएससी की सीट पर चयनित हो गए है.

संख्या के मामले में सवर्णों को बहुजनों ने पिछाड़ा

इन परिणामों में बहुजन समाज ( ओबीसी, एससी,एसटी) के अभ्यार्थियों ने चयन के मामले में सवर्ण समुदाय के अभ्यार्थियों को पीछे छोड़ दिया.

यूपीएससी द्वारा 1099 पदों के परिणाम घोषित किए गए जसमें से 500 पदों पर सवर्ण समुदाय के अभ्यार्थियों का चयन हुआ जबकि ओबीसी समुदाय के चयनित बच्चों की संख्या 347 रही. वहीं एससी और एसीटी  वर्ग के चयनित अभ्यार्थियों की संख्या क्रमश: 163 और 89  रही . कुल मिलाकर 500 सवर्ण समुदाय के अभ्यार्थियों के मुकाबले में इस बार 599 बहुजन समाज के अभ्यार्थियों का चयन हुआ.

Related posts

Share
Share