You are here

UP में बेसिक शिक्षा के 15 अध्यापक बर्खास्त, 2 शिक्षक दो जिलों से ले रहे थे वेतन, FIR दर्ज करने के निर्देश

नई दिल्ली/ गोंडा, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

उत्तर प्रदेश में फर्जीवाड़े के माध्यम से नौकरी हथियाने वालों की कमी नहीं है। जुगाड़ तकनीकि और सुविधा शुल्क के माध्यम से नौकरी पहले भी ली जाती रही है। इस बार मामला फर्जी कागजों के माध्यम से नौकरी पाने का है।

बेसिक शिक्षा विभाग हाईकोर्ट के निर्देश पर हुई जांच में फर्जी कागजातों के जरिये नौकरी पाने वाले 15 शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया। इनमें दो महारथी ऐसी भी हैं जिनकी तैनाती गोंडा व फिरोजाबाद दो जनपदों में है और दोनों शिक्षक दोनों जनपदों से वेतन भी ले रहे थे।

आधार कार्ड खातों से लिंक होने के बाद इस सनसनीखेज फर्जीवाड़े का खुलासा हुआ। मामला सामने आने के बाद बीएसए ने जालसाज शिक्षकों की सेवा समाप्त करते हुए संबंधित खंड शिक्षाधिकारी को एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं।

हाईकोर्ट के आदेश पर हुई थी जांच- 

बेसिक शिक्षा विभाग में 27 अगस्त 2016 को जिला चयन समिति द्वारा जिले के विभिन्न विकास खंडों में शिक्षकों तैनाती दी गई। तैनाती के वक्त भी याचिकाकर्ताओ द्वारा फर्जी अभिलेख से नियुक्ति लेने का आरोप लगाया था।

लेकिन विभाग द्वारा कार्रवाई न किए जाने पर स्वाति उत्तम सहित अन्य याचिकाकताओं ने हाईकोर्ट लखनऊ बेंच में याचिका दायर की। जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने जांच कर रिपोर्ट देने को कहा।

तत्कालीन बेसिक शिक्षाधिकारी ने तीन सदस्यीय जांच समिति बनाकर रिपोर्ट देने को कहा। जांच रिपोर्ट में अभिलेखों के फर्जी पाए जाने तथा दो अध्यापकों द्वारा फर्जी तरीके से अभिलेख लगाकर दो जगह तैनाती लेने और दोनों जगह ले वेतन निकालने की बात सामने आई।

मामला प्रकाश में आने के बाद सचिव बेसिक शिक्षा परिषद के निर्देश पर तैनाती के दौरान लिए गए वेतन को तत्काल राजस्व कोष में जमा कराने के निर्देश दिए गए। राशि जमा न कराने की स्थिति में राजस्व की भांति वसूली किए जाने की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी।

बर्खास्त शिक्षक- 

मनोज कुमार सहायक अध्यापक प्राथमिक विद्यालय टेंगनहवा बभनजोत, चन्द्रकांत प्राथमिक विद्यालय चांदपुर माझा परसपुर, वैभव यादव मल्लाहन पुरवा कर्नेलगंज, शिव कुमार शर्मा विशुनपुर कला परसपुर, संदीप कुमार वर्मा उर्दीगोड़ा कटरा बाजार, देवेश चन्द्र वर्मा महापारा

कटरा बाजार, राघवेन्द्र कुमार वर्मा पिपरी माझा कटरा बाजार, शुकान्त यादव पूरे अहलाद बेलसर, दीपक वर्मा उड़ीला कटरा बाजार, आशीष कुमार राजगढ़ अमीनपुर इटियाथोक, वेद प्रकाश पूरे मुसद्दी इटियाथोक, सुबोध कुमार पूरे चैहान टेपरा बेलसर, अशोक कुमार डढौवा कुतुबजोत बभनजोत, चन्दन यादव सरैया प्रथम कर्नेलगंज, जीतेन्द्र कुमार पिसइया कटरा बाजार।

बेसिक शिक्षाधिकारी संतोष कुमार देव पांडेय ने बताया कि जांच में अभिलेख फर्जी पाए जाने के बाद शिक्षकों को अपना पक्ष रखने के लिए कई बार नोटिस जारी किया गया, लेकिन अंत तक इन शिक्षकों ने अपना पक्ष नही रखा। जिसके बाद 15 अध्यापकों की सेवा समाप्त कर दी गई है तथा खण्ड शिक्षाधिकारियों को प्राथमिकी दर्ज कराने के निर्देश दिए गए हैं।

हार्दिक पटेल की कांग्रेस को चेतावनी, 3 नवंबर तक साफ करें पाटीदार को आरक्षण कैसे देंगे ?

पत्रकार विनोद वर्मा की गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने उठाए सवाल, SEX CD के आरोपी BJP मंत्री का इस्तीफा मांगा

नोटबंदी की ‘जयंती’ 8 नवंबर पर विपक्ष मनाएगा काला दिवस, बिहार में विरोध में रैली करेंगे लालू यादव

पत्रकार विनोद वर्मा बोले, मेरे पास छत्तीसगढ़ के मंत्री की SEX CD है इसलिए BJP सरकार मुझे फंसा रही है

अब मोदीराज में हास्य पर भी पहरा, श्याम रंगीला से चैनल ने कहा राहुल की मिमिक्री कर लो मोदी की नहीं

29 अक्टूबर को आयोजित सरदार पटेल जयंती की तैयारियां पूरी, दिल्ली में 19 जगहों पर होगी वाहन व्यवस्था

पढ़िए समग्र विश्लेषण: क्यों राजस्थान में BJP चुनाव आने से पहले ही चुनाव हार गई है ?

Related posts

Share
Share