You are here

जस्टिस मुख्तार अहमद ने चंद्रशेखर की गिरफ्तारी को राजनीति से प्रेरित मानते हुए जमानत मंजूर की

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो।

सहारनपुर जातीय हिंसा मे आरोपी बनाकर जेल भेजे गए भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद को जमानत मिल गई है। उन्हे यूपी पुलिस ने जून में गिरफ्तार किया था।  इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चंद्रशेखर को दंगे से जुड़े सभी चार मामलों में जमानत दे दी है।

जस्टिस मुख्तार अहमद की बेंच के निर्णय में खास बात ये रही कि उन्होंने भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर रावण और डिप्टी चीफ कमल वालिया की गिरफ्तारी को राजनीति से प्रेरित मानते हुए जमानत अर्जी मंजूर की है।

चंद्रशेखर को एक अन्य मामले में सेशन कोर्ट से पहले ही जमानत मिल चुकी है। भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने चंद्रशेखर के इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया था।

हालत में सुधार ना होने पर जेल प्रशासन ने उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। तबीयत में कुछ सुधार होने के बाद चंद्रशेखर को जेल में शिफ्ट कर दिया। मगर उनकी हालत फिर से बिगड़ने लगी थी। भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने चंद्रशेखर को बेहतर इलाज एवं कड़ी सुरक्षा प्रदान करने की मांग की थी।

सहारनपुर में हुई जातीय हिंसा के मामले में दलितों की ओर से गैर दलित पक्ष पर 25 मुकदमे दर्ज कराये गए थे। जिसके जवाब में भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर रावण सहित कई अन्य के खिलाफ क्रास एफआईआर में 10 मुकदमे दर्ज कराये गए थे।

इनमें से 6 में भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर रावण और डिप्टी चीफ कमल वालिया को भी आरोपी बनाया गया है। चन्द्रशेखर रावण और डिप्टी चीफ कमल वालिया दोनों सहारनपुर जेल में बन्द हैं।

चंद्रशेखर रावण के इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप- 

भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने चंद्रशेखर उर्फ रावण के इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। भीम आर्मी के प्रचार मंत्री टिंकू कपिल ने कहा कि आजाद से मिलने कई पदाधिकारी जेल में गए थे। चंद्रशेखर का स्वास्थ्य टाइफाइड होने की वजह से दस दिन से खराब चल रहा था।

हालत में सुधार ना होने पर जेल प्रशासन ने उन्हें सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। तबियत में कुछ सुधार होने के बाद चंद्रशेेखर को जेल में शिफ्ट कर दिया गया। मगर उनकी हालत फिर से बिगड़ने लगी है।

भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने चंद्रशेखर को बेहतर इलाज एवं कड़ी सुरक्षा प्रदान करने की मांग की। चेतावनी दी कि अगर चंद्रशेखर को कुछ होता है तो इसका जिम्मेदार प्रशासन होगा और भीम आर्मी आंदोलन करेगी।

गुजरात सरकार के मंत्री राजेंद्र त्रिवेदी बोले, BJP के खिलाफ बोलने वालों को फांसी पर चढ़ा दो

व्यापमं: CM शिवराज को क्लीन चिट पर कांग्रेस बोली, CBI अब कंप्रोमाइज ब्यूरो आॅफ इंवेस्टीगेशन हो गई है

सामाजिक न्याय की दिशा में CM नीतीश का बड़ा कदम, बिहार में संविदा और कांट्रेक्ट भर्ती पर भी आरक्षण लागू

सरकार की हड़बड़ी से गई 30 की जान, ‘काम’ दिखाने को अधूरी तैयारियों के साथ शुरू करा दी NTPC यूनिट

रौबीली मूंछ वाले ‘द ग्रेट दलित’ चंद्रशेखर रावण का जातिवाद सरकार ने क्या हाल बना डाला, खड़े होइए, लिखिए, बोलिए

सरदार पटेल जयंती पर अखिलेश का कुर्मी समाज से हिस्सेदारी का वादा, बोले भाई को मिलेगा भाई जैसा सम्मान

 

 

 

Related posts

Share
Share