You are here

VHP नेता प्रवीण तोगड़िया के गायब होने पर सस्पेंस, BJP बोली उठा ले गई राजस्थान पुलिस, अस्तपाल पहुंचे

नई दिल्ली, नेशनल जनमत ब्यूरो। 

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के सोमवार सुबह से लापता होने की खबरों के बीच दिन भर उठापठक का खेल चलता रहा। परिषद कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और उनका पता लगाए जाने की मांग की।

विहिप ने दावा किया कि राजस्थान पुलिस ने एक प्रकरण के सिलसिले में 62 वर्षीय तोगड़िया को हिरासत में लिया है लेकिन पुलिस ने इस बात से इनकार किया है।

स्थानीय सोला थाने के अधिकारियों ने कहा कि राजस्थान पुलिस का एक दल एक पुराने मामले में सरकारी अधिकारी द्वारा लागू आदेश की अवज्ञा करने से जुड़ी आईपीसी की धारा 188 के तहत तोगड़िया के खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट की तामील करने सोमवार को आया था लेकिन विहिप नेता अपने आवास पर नहीं मिले।

विहिप कार्यकर्ताओं ने सोला थाने का घेराव किया, नारे लगाए और गांधीनगर जाने वाले राजमार्ग पर यातायात अवरुद्ध कर पुलिस से तत्काल तोगड़िया का पता लगाने की मांग की।

विहिप की गुजरात इकाई के महासचिव रणछोड़ भारवाड ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारे अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया आज सुबह 10 बजे से लापता हैं। उनके अता-पता की जानकारी रखने और उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रशासन की है।’’

उन्होंने कहा कि इस बात की अभी तक पुष्टि नहीं हुई है कि तोगड़िया को गिरफ्तार किया गया है या नहीं। हालांकि भाजपा प्रवक्ता जय शाह ने दावा किया कि राजस्थान पुलिस ने तोगड़िया को एक पुराने मामले में हिरासत में लिया है

उन्होंने दावा किया, ‘‘हमारे नेता प्रवीण तोगड़िया को एक पुराने मामले में राजस्थान पुलिस ने शहर के पालदी इलाके में विहिप के प्रदेश मुख्यालय से हिरासत में लिया है और अपने साथ ले गई है।’’ हालांकि राजस्थान पुलिस ने तोगड़िया को हिरासत में लेने या गिरफ्तार करने की बात से इनकार किया है।

राजस्थान पुलिस का इंकार- 

भरतपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक आलोक कुमार वशिष्ठ ने कहा, ‘‘हमारी टीम ने तोगड़िया को गिरफ्तार नहीं किया है। मेरी सूचना के मुताबिक गंगापुर (राजस्थान) का पुलिस दल गिरफ्तारी वारंट की तामील किए बिना लौट रहा है क्योंकि तोगड़िया अहमदाबाद में नहीं मिले।

यह अफवाह है कि तोगड़िया हमारी हिरासत में हैं जो बिल्कुल भी सही नहीं है।’’ गंगापुर राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में है और राज्य पुलिस की भरतपुर रेंज के अधिकार क्षेत्र में आता है।

सोला पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि राजस्थान पुलिस ने तोगड़िया के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट की तामील कराने में उनकी मदद मांगी थी लेकिन वह नहीं मिले। हालांकि, शाम तक जब खबर फैली तो पता चला कि प्रवीण तोगड़िया अहमदाबाद के एक अस्पताल में भर्ती हैं। इससे पहले वो बेहोशी की हालत में मिले थे।

डॉक्टरों के मुताबिक शुगर कम होने की वजह से तोगड़िया की तबीयत बिगड़ गई थी। इस बीच वीएचपी नेता के अस्पताल में भर्ती होने की खबर मिलने के बाद वहां बड़ी तादाद में वीएचपी कार्यकर्ता भी इकट्ठा हो गए हैं। इसको देखते हुए अस्पताल के आस-पास कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं।

समझिए पूरा मामला, जिसकी वजह से चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा ने लोकतंत्र को ताक पर रख दिया !

अब SC-HC के कई पूर्व जस्टिस ने लगाए आरोप, CJI दीपक मिश्रा अहम मामले अपने चहेते जजों को देते हैं

दिल्ली: मौर्य फ्रेंड्स ग्रुप ने सावित्री बाई फुले जयंती पर आयोजित किया ‘शिक्षा शिखर सम्मेलन’

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा के नरम पड़े तेवर, रविवार को सवाल उठाने वाले जजों से मिल सकते हैं !

कौन है वो तानाशाह जिसके कहने पर चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने देश के लोकतंत्र को खतरे में डाल दिया है !

 

Related posts

Share
Share